Sat. Jan 22nd, 2022
golconda fort
golconda

गोलकोंडा किला – about golconda fort

आज हम बात करेंगे तेलंगाना राज्य की राजधानी हैदराबाद के एक प्रमुख पर्यटक स्थल golconda के बारे में। जोकि हैदराबाद का दूसरा सबसे ज्यादा पर्यटकों को आकर्षित करने वाला स्थल हे। जी है हम बात कर रहे हे golconda fort की। इस किले को गोला कोंडा के नामसे भी जाना जाता हे। जिसको यहाँ की स्थानीय भाषा में चरवाहों की पहाड़ी भी कहा जाता हे। यह किला भारत के तेलांगना राज्य के हैदराबाद शहर के पास स्थित हे।

यह भारत का प्रसिद्ध और समृद्ध किला था। अपने समयकाल के दौरान यह किला बहुत ही संपन्न किला था। यह किला भारत की प्रसिद्ध हिरे की खान कोल्लूर खदान के पास होने की वजह से अपने समयकाल के दौरान golconda हीरो का बहुत बड़ा व्यापर केंद्र था। यहाँ के हिरे को गोलकोंडा हिरे के नाम से भी जाना जाता था।

golconda के इस क्षेत्र ने कई मशहूर हीरो का उत्पादन किया हे जिनके नाम निचे दिए गए हे।

  • कोह-ए-नूर
  • ब्लू हॉप
  • दरिया-ए-नूर
  • वाइट-रीजेंट
  • ड्रेसडेन ग्रीन
  • ओर्लोव
  • निजाम
  • जैकब

गोलकोंडा किला इतिहास – Golconda History

यह किला दक्षिणी हैदराबाद से तक़रीबन 11 किलोमीटर दुरी पर स्थित हे। यह किला अपनी अदभुत संरचना और वास्तुकला के लिए बहुत ही प्रसिद्ध हे। golconda साम्राज्य भारत में बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध हे क्युकी इसी जगह ने भारत को कई बेशकीमती चीजे दी हे उनमे से एक हल में इंग्लैंड में स्थित कोहिनूर हिरा हे।

गोलकोंडा का ये महान किला मराठा साम्राज्य के समय पर आकर में आया था। गोलकोंडा किले और शहर का निर्माण 120 मीटर ऊँची ग्रेनाइट हिल पर बनाया गया था। यह किला विशाल चारदीवारी में बनाया गया हे।

इस किले का निर्माण 14 वीं शताब्दी में वारंगल के राजा द्वारा करवाया गया था। इस किले की मरम्मत का काम ककाटिया के राजा प्रताप रूद्र ने करवाई था। लेकिन बाद में मुसुनुरि नायक ने हमला करके इसे जित लिया था। एक समय पर यह किला बहमनी राजा के अधीन था और उसने इसका नाम मुहम्मदनगर रखा था।

1512 ईसवी में यह किला कुतुबशाही राजाओ ने जित कर इस पर अपना अधिकार स्थापित कर लिया। कुतुबशाही वंश ने इस पर 100 साल से भी ज्यादा अपना अधिकार बनाये रखा। यह किला 1687 तक कुतुबशाही वंश के अधिकार क्षेत्र में रहा। 1667 में औरंगज़ेब ने इस किले को चारो और से घेर लिया और इसको बहुत ज्यादा नुकशान पंहुचा कर कुतुबशाही वंश से जित लिया।

ग्रेनाइट की पहाड़ी में बने इस किले में कुल आठ दरवाजे हे और मजूबी के साथ कड़ी पत्थर से बानी तीन मिल लम्बी दीवार हे।इस किले से आधा मिल दूर कुतुबशाही राजाओ के ग्रेनाइट से बने मकबरे हे जो की जर्जरित अवस्था में आज बजी मौजूद हे। गोलकोंडा के दक्षिण में मुसी नाम की नदी बहती हे।

दूसरी बातें गोलकोंडा के बारे में – Other things about Golconda

golconda किले की बहुत ही ज्यादा अदभुत और आकर्षित संरचना के चलते इस किले को आर्कियोलॉजिकल ट्रेजर के “स्मारकों की सूचि” में शामिल किया गया हे। golconda किला एक किला नहीं अलग अलग चार किलो को मिला कर बना हुआ हे। जिसमे कुल आठ दरवाजे और पत्थर की तीन मिल लम्बी मजबूत दीवार मौजूद हे। इस किले में कई इमारते हे जिसमे मंदिर,मस्जिद,पत्रिका और कई हॉल भी सामेल हे।

गोलकोंडा निचले भाग में फ़तेह दरवाजा हे जो बहुत मशहूर हे। इस दरवाजे को विजय द्वार भी कहते हे। इस द्वार के दक्षिणी-पूर्वी किनारे पर बेहत अनमोल और बेजोड़ लोहे की किले जड़ी हुई हे।

गोलकोण्डा किले की खास बात यह हे की इस की बनावट इस तरह से की गई हे की अगर आप निचले भाग के किसी कमरे में हे तो आपकी ताली की आवाज कंप्रेस होकर ऊपरी भाग तक पहोच सकती हे। कहा जाता हे की इस टेक्निक का प्रयोग आपातकालीन परिस्थिति में दुश्मनो के आगमन का सन्देश देने के लिए किया जाता था।

गोलकोंडा किले का मुख्य द्वार बाला हिस्सार के नाम से जाना जाता हे जो की किले में पूर्व दिशा में बना हुआ हे। यह दरवाजा बहुत ही उमदा
कारीगिरी का अदभुत उदाहरण हे। इस दरवाजे की किनारी पर बारीकी से कलाकारी की गई हे। इस दरवाजे पर विशेष प्रकार का ताला लगाया जाता था। इस दरवाजे पर हिन्दू और मुस्लिम मिश्रित कलाकृति के आधार पर मोर और शेर की आकृति बनाई गई हे।

गोलकोंडा किले के अंदर – Inside Golconda Fort

golconda किले के अंदर और भी आकर्षित इमारते मौजूद हे जो किले को और ज्यादा प्रसिद्ध करती हे। उन इमारतों में हब्शी कामंस,असलाह खाना,तारामती मस्जिद,रामदास बंदीखाना,कैमल स्टेबल,शमशान स्नान, नगीना बाग,दरबार हॉल,किलवट,अम्बर खाना और रामास्सा कोठा इत्यादि सामेल हे।

इस किले में अपने समय की अदभुत वोटर सप्लाई सिस्टम भी बनाई गई थी जो इस किले को और भी ज्यादा रोमांचित बनाती हे। इस वोटर सप्लाई का नाम “रहबान” रखा गया था। लेकिन हाल के समय में इस किले की सुंदरता काम होती जा रही हे

इस किले के मुख्या प्रवेश द्वार को लोहे की किलो से सजाया गया हे। लेकिन यह सिर्फ सजावट के लिए ही नहीं थे कहा जाता हे की यह नुकीले किले गोलकोण्डा किले को दुश्मनो के हाथीओ के आक्रमण से बचाते थे।

गोलकोंडा के बारे में अन्य तथ्य – Other Fact About Golconda

  1. पहले यह किला मिटटी से बनाया गया था लेकिन समय के साथ यहाँ पर कई राजा ने इस किले को बनाया और इसका विस्तार किया।
  2. दरिया-ए-नूर,नूर-उल-ऐन,कोहिनूर रीजेंट डायमंड जैसे कई हिरे यहाँ से ही बहार निकले हे।
  3. एक कथा की मने तो इस किले के फ़तेह द्वार के पीछे एक पागल आदमी रहता था। यह पागल आदमी इस दरवाजे की सुरक्षा करता हे। लोगो का कहना हे की जब तक यह पागल आदमी यहाँ होता तब तक मुग़ल सैनिक इस पर हमाल नहीं कर सकते थे।
  4. गोलकोंडा किले के नए परिसर में एक वृक्ष हे जिको यहाँ के स्थानिक लोग हतिया के नाम से पुकारते हे। यह वृक्ष आफ्रिकन बाओबाब वृक्ष हे जो की 425 साल से यहाँ पर मौजूद हे। कहा जाता हे की अरब व्यापारिओं ने इसे सुल्तान कुली क़ुतुब शाह को भेट के रूप में दिया था।
  5. इस किले में अदभुत ध्वनि सिस्टम हे आप अगर इस किले के परवशद्वार से ताली बजाते हो तो आप उस ताली को किले के सबसे ऊपरी भाग बाला हिस्सार में सुन सकते हो। इसका इश्तेमाल दुश्मनो के आगमन के लिए किया जाता था।
  6. इस किले की ऊपरी भाग में सुल्तान कुली क़ुतुब शाह ने हिन्दुओ के लिए जगदम्बा महाकाली मंदिर बनवाया था। सुल्तान क़ुतुब शाह कुली हिन्दुओ में बहुत प्रसिद्ध थे। इस लिए होन्दु लोग उनको मल्कभिराम के नाम से भी पुकारते थे।
  7. यहाँ के स्थानीय लोगों का कहना है कि इस किले में एक रहश्यमयी सुरंग मौजूद हे। जो की किले के अंदर से शुरू होकर चार मीनार तक जाती हे। कहा जाता हे की आपातकालीन समय में इस सुरंग उपयोग शाही परिवार को इस किले से बहार ले जाने के लिए किया जाता था।

other Post

SONGADH FORT : POWERFUL FORT OF GAEKWAD EMPIRE [2021]

Alleppey Kerala > Full History And Best Places To Visit [2021]

Khajuraho Temple > Full History Of Khajuraho Temple [2021]

Varanasi Banaras : 9 Attractive Places To Visit In Varansi

Did You Know About Aurangabad : Top 4 Beautiful Aurangabad Tourist Places

8 thoughts on “Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021]”
  1. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021]Varanasi Banaras : 9 Attractive Places To Visit In Varansi […]

  2. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

  3. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

  4. nalanda vishwavidyalaya : एशिया की सबसे बड़ी विश्वविद्यालय - Full History In Hindi [2021] says:

    […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

  5. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

  6. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

  7. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

  8. […] Golconda Fort : Full History Of Golconda And Amazing Fact [2021] […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *